Tuesday, December 30, 2008

आया नव वर्ष आया


आया नव वर्ष ,आया आपके द्वार
दे रहा है ये दस्तक , बार बार !

बीते बरस की बातों को , दे बिसार
लेकर आया है ये , खुशियाँ और प्यार !
खुले बाहों से स्वागत कर ,इसका यार
और मान ,अपने ईश्वर का आभार !

आओ , कुछ नया संकल्प करें यार
मिटायें ,आपसी बैर ,भेदभाव ,यार !
लोगो में बाटें ,दोस्ती का उपहार
और दिलो में भरे , बस प्यार ही प्यार !

अपने घर, समाज, और देश से करें प्यार
हम सब एक है , ये दुनिया को बता दे यार !
कोई नया हूनर ,आओ सीखें यार
जमाने को बता दे , हम क्या है यार !

आप सबको ,है विजय का प्यारा सा नमस्कार
नव वर्ष मंगलमय हो ,यही है मेरी कामना यार !

आया नव वर्ष ,आया आपके द्वार
दे रहा है ये दस्तक , बार बार !


20 comments:

  1. बुहत सुंदर कविता... नव वर्ष की आपको बहुत बहुत शुभकामनाएं .
    आपका ब्लॉग टेक पत्रिका ब्लोगरोल में है .

    ReplyDelete
  2. बीते बरस की बातों को , दे बिसार
    लेकर आया है ये , खुशियाँ और प्यार !
    खुले बाहों से स्वागत कर ,इसका यार
    और मान ,अपने ईश्वर का आभार !
    बहुत सुंदर कोमल भावनाओं से स्वागत किया है आपने नव वर्ष का , आपको भी नव वर्ष की शुभकामनाये "

    regards

    ReplyDelete
  3. वाह जी वाह क्या बात। नए साल की शुभकामनाएं देने के लिए कविता ही लिख डाली। आपको भी पहले से ही नव बर्ष की ढेरों शुभकामनाए। नए साल में आपको और आपके परिवार को ढेरों खुशियाँ मिलें।
    आओ , कुछ नया संकल्प करें यार
    मिटायें ,आपसी बैर ,भेदभाव ,यार !
    लोगो में बाटें ,दोस्ती का उपहार
    और दिलो में भरे , बस प्यार ही प्यार !

    बहुत खूब।

    ReplyDelete
  4. 'नव वर्ष की शुभकामनाये "

    ReplyDelete
  5. बीते बरस की बातों को , दे बिसार
    लेकर आया है ये , खुशियाँ और प्यार !
    खुले बाहों से स्वागत कर ,इसका यार
    और मान ,अपने ईश्वर का आभार बुहत सुंदर कविता... नव वर्ष की आपको बहुत बहुत शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  6. अच्छी कविता .नव वर्ष की शुभ कामनाये

    ReplyDelete
  7. नव वर्ष मंगलमय हो यही है मेरी कामना यार.
    ये यार शब्द पर हँसी आई, मतलब अच्छा लगा.

    ReplyDelete
  8. विजय जी,
    बढ़िया कविता है, नए साल का ड्योढ़ी पर सुंदर आगाज। आपको नववर्ष की कोटिशः शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  9. बीते बरस की बातों को , दे बिसार
    लेकर आया है ये , खुशियाँ और प्यार !
    खुले बाहों से स्वागत कर ,इसका यार
    और मान ,अपने ईश्वर का आभार !
    बहुत सुंदर कोमल भावनाओं से स्वागत किया है आपने नव वर्ष का , आपको भी नव वर्ष की शुभकामनाये "..............seemaa ji kee baat....mere shadon kaa saath...aapko bhi mubaarakvaad....!!

    ReplyDelete
  10. First of all Wish u Very Happy New Year...

    Sundar Rchana..
    Regards..

    ReplyDelete
  11. First of all Wish u Very Happy New Year...
    Badhai ho...
    bahut hi acha likha hai.....

    ReplyDelete
  12. सकारात्मक सोच लिए , नूतन ख्यालों से परिपूर्ण ,
    नए वर्ष का स्वागत किया है........हमारी भी शुभकामना यही है

    ReplyDelete
  13. नए साल की हार्दिक शुभकामनाएं...

    ReplyDelete
  14. sirf kehne tk hi na reh jaaye
    aao ! mil kr prarthna kareiN
    k ho bhi ye . . . .
    NAYA SAAL 2009
    M U B A R A K .
    ---MUFLIS---

    ReplyDelete
  15. Respected Vijaya ji,
    Mere blog par ane aur tareef karne ke liye dhanyavad.Apne blog par naye varsh ke svagat ke sath bahut hee sundar sandesh diya hai.badhai.
    Nav varsh kee hardik mangal kamnayen.
    Poonam

    ReplyDelete
  16. नव वर्ष एवं नव वर्ष के स्वागत पर इस काव्यमयी अभिव्यक्ति पर आपको हार्दिक बधाई.
    नव वर्ष की शुभ कामनायें.
    सादर

    द्विजेन्द्र द्विज

    ReplyDelete
  17. sath sath aapka aashirwaad bhi chahiye dedo na jaldi se........

    ReplyDelete
  18. बीते बरस की याद और नये का स्वागत . अच्छा है

    ReplyDelete
  19. bahut khub Vijay ji, aapki kavitaon ke har lafz jaisa hee guzare ye naya varsh...

    aapko naye varsh ki bahut shubhkamanayein
    fiza

    ReplyDelete
  20. बहुत सुन्दर कविता

    ReplyDelete